Vishwakarma Shram Samman Yojana Online Registration

Vishwakarma Shram Samman Yojana Online Registration, Last Date: उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री ने राज्य के मजदूरों के स्वरोजगार और विकास को बढ़ावा देने के लिए विश्वकर्मा श्रम सम्मान योजना की स्थापना की। इस योजना के तहत, उत्तर प्रदेश से लौटने वाले मजदूरों के साथ-साथ पारंपरिक कारीगरों और शिल्पकारों को अपने कौशल में सुधार करने में मदद करने के लिए छह दिनों का मुफ्त प्रशिक्षण मिलेगा। जिससे वह अपना खुद का व्यवसाय शुरू कर सके।

Vishwakarma Shram Samman Yojana Overview

Name of Scheme Vishwakarma Shram Samman Yojana
Beneficiary State workers
Objective Provide financial aid
Application Process Online
Official Website http://diupmsme.upsdc.gov.in/

इस योजना के तहत मजदूरों को प्रदान की जाने वाली राशि सीधे लाभार्थियों के बैंक खातों में जमा की जाएगी। नतीजतन, आवेदक के पास एक बैंक खाता होना चाहिए, जो आधार कार्ड से जुड़ा होना चाहिए।

विश्वकर्मा श्रम सम्मान योजना लक्ष्य

इस योजना का उद्देश्य राज्य में पारंपरिक कारीगरों, जैसे बढ़ई, दर्जी, टोकरी बुनकर, नाई, सुनार, लोहार, कुम्हार, हलवाई, मोची, राजमिस्त्री और हस्तशिल्पियों के जीवन स्तर में सुधार करना है, ताकि उनकी आजीविका के साधनों को मजबूत किया जा सके।

योजना के अंतर्गत आने वाले पात्र पारंपरिक कारीगरों एवं शिल्पकारों को कौशल वृद्धि हेतु छह दिवसीय निःशुल्क प्रशिक्षण दिया जायेगा। सफल प्रशिक्षण के बाद, व्यापार में नवीनतम तकनीक पर आधारित एक उन्नत प्रकार की टूल किट वितरित की जाएगी।

विश्वकर्मा श्रम सम्मान योजना के लाभ

योजना के कुछ प्रमुख लाभ निम्नलिखित हैं:

  • इस योजना से राज्य के शहरी और ग्रामीण दोनों क्षेत्रों में पारंपरिक व्यवसायों जैसे बढ़ई, दर्जी, टोकरी बुनकर, नाई, सुनार, लोहार, कुम्हार, हलवाई, मोची और हस्तशिल्प की कला का अभ्यास करने वालों को लाभ होगा।
  • विश्वकर्मा श्रम सम्मान योजना हर साल 15,000 लोगों को रोजगार देगी।
  • इस योजना के तहत, सरकार कारीगरों के प्रशिक्षण के दौरान उनके रहने और खाने के खर्च का भुगतान करेगी।
  • प्रशिक्षण पूरा करने के बाद, सभी योग्य कारीगरों को उनके कौशल और व्यापार के आधार पर एक उन्नत प्रकार की टूल किट दी जाएगी।
  • विश्वकर्मा श्रम सम्मान योजना 2022 के तहत बढ़ई, दर्जी, टोकरी बुनकर, नाई, सुनार, लोहार, कुम्हार, हलवाई, मोची और अन्य को 6 दिन का सवैतनिक अवकाश मिलेगा।

विश्वकर्मा श्रम सम्मान योजना

  • विश्वकर्मा श्रम सम्मान योजना की विशेषताएं योजना की कुछ मुख्य विशेषताएं निम्नलिखित हैं:
  • योजनान्तर्गत श्रमिकों को लघु एवं मध्यम उद्यम विभाग द्वारा तहसील या जिला मुख्यालय पर प्रशिक्षण दिया जायेगा।
  • योजना के तहत सभी पात्र कारीगरों को छह दिवसीय नि:शुल्क प्रशिक्षण दिया जाएगा। जिससे उन्हें आसानी से काम मिल सके।
  • योजना के माध्यम से प्रदान किए जाने वाले सभी प्रकार के प्रशिक्षण के लिए राज्य सरकार भुगतान करेगी।
  • योगी सरकार ने कारीगरों को प्रशिक्षण के समय वेतन के स्तर के साथ-साथ वित्तीय सहायता प्रदान करने की योजना शुरू की है।
  • इस योजना के तहत, सरकार कारीगरों के प्रशिक्षण के दौरान उनके रहने और खाने के खर्च का भुगतान करेगी।
  • विश्वकर्मा श्रम सम्मान योजना पात्रता मानदंड

योजना के लिए आवेदन करने के लिए आवेदकों को भारत सरकार द्वारा स्थापित पात्रता मानदंडों को पूरा करना होगा। योजना की पात्रता आवश्यकताएँ इस प्रकार हैं:

  • आवेदक उत्तर प्रदेश का स्थायी कानूनी निवासी होना चाहिए।
  • उम्मीदवार की आयु 18 वर्ष से अधिक होनी चाहिए।
  • आवेदक के परिवार का केवल एक सदस्य इस योजना के तहत लाभ के लिए पात्र है।
  • इस योजना में भाग लेने के लिए किसी शैक्षणिक योग्यता की आवश्यकता नहीं है।
  • यह योजना उन श्रमिकों के लिए उपलब्ध नहीं है जिन्हें संघीय या राज्य सरकारों से टूलकिट लाभ प्राप्त हुआ है।
  • विश्वकर्मा श्रम सम्मान योजना आवश्यक दस्तावेज
  • योजना के लिए आवेदन पत्र भरते समय आवेदकों के पास कुछ महत्वपूर्ण दस्तावेज होने चाहिए।

विश्वकर्मा श्रम सम्मान योजना 2022 के लिए निम्नलिखित दस्तावेजों की आवश्यकता है:

  • पासपोर्ट के आकार की तस्वीर
  • आधार कार्ड
  • अधिवास प्रमाणपत्र
  • पहचान पत्र
  • निवास प्रमाण पत्र
  • मोबाइल नंबर
  • जाति प्रमाण पत्र
  • बैंक पासबुक कॉपी

विश्वकर्मा श्रम सम्मान योजना 2022 के लिए आवेदन कैसे करें

  • चरण 1: शुरू करने के लिए, उद्योग और उद्यम संवर्धन निदेशालय की आधिकारिक वेबसाइट diupmsme.upsdc.gov.in पर जाएं। आधिकारिक वेबसाइट पर जाने के बाद, होम पेज स्क्रीन पर दिखाई देगा।
  • चरण 2– होम पेज पर विश्वकर्मा श्रम सम्मान योजना का विकल्प होगा। आपको उस ऑप्शन पर क्लिक करके सेलेक्ट करना है। विकल्प चुनने के बाद, स्क्रीन पर एक नया पेज दिखाई देगा।
  • चरण 3: उसके बाद, आपको नया उपयोगकर्ता पंजीकरण विकल्प चुनना होगा। विकल्प का चयन करने के बाद पंजीकरण फॉर्म दिखाई देगा।
  • चरण 4– इसके बाद, पंजीकरण फॉर्म में सभी आवश्यक जानकारी भरें, जैसे कि योजना का नाम, आपका नाम, आपके पिता का नाम, राज्य, जन्म तिथि, मोबाइल नंबर, ईमेल आईडी, जिला आदि।
  • चरण 5– सभी आवश्यक जानकारी दर्ज करने के बाद सबमिट बटन पर क्लिक करें। इस तरह रजिस्ट्रेशन की प्रक्रिया पूरी हो जाएगी।

पंजीकृत उपयोगकर्ता आधिकारिक वेबसाइट पर कैसे लॉगिन कर सकते हैं?

आधिकारिक वेबसाइट पर लॉग इन करने के लिए, पंजीकृत उपयोगकर्ता नीचे दिए गए चरण-दर-चरण निर्देशों का पालन कर सकते हैं-

  1. सबसे पहले, आवेदक को आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  2. आधिकारिक वेबसाइट पर पहुंचने के बाद आपके सामने होम पेज खुल जाएगा।
  3. होम पेज पर, ड्रॉप-डाउन मेनू से विश्वकर्मा श्रम सम्मान योजना का चयन करें।
  4. योजना विकल्प पर क्लिक करने के बाद निम्न पृष्ठ दिखाई देगा। उस पेज पर आपको Registered User Login टैब दिखाई देगा। इस लॉगिन फॉर्म में आपको अपना यूजरनेम, पासवर्ड, कैप्चा कोड और अन्य जानकारी दर्ज करनी होगी।
  5. इसके बाद आपको लॉगइन बटन पर क्लिक करना होगा।
  6. ऊपर बताए गए स्टेप्स को पूरा करने के बाद आप लॉग इन कर पाएंगे।
  7. आवेदन की स्थिति कैसे जांचें?

अपने आवेदन की स्थिति की जांच करने के लिए, आधिकारिक वेबसाइट पर जाकर शुरू करें।

  1. फिर होम पेज स्क्रीन पर प्रदर्शित होगा।
  2. होम पेज पर विश्वकर्मा श्रम सम्मान योजना का चयन करें।
  3. क्लिक करने के बाद अगला पेज खुलेगा। आप इस पेज पर नीचे आवेदन की स्थिति को ट्रैक करने के लिए फॉर्म देखेंगे।
  4. फॉर्म में आपको अपना एप्लीकेशन नंबर डालना होगा।
  5. उसके बाद, आपको “अपने आवेदन की स्थिति जानें” बटन पर क्लिक करना होगा।
  6. इसके बाद आवेदन की स्थिति का पता चलेगा।

यूपी विश्वकर्मा श्रम सम्मान योजना एक बेहतरीन पहल है, क्योंकि उत्तर प्रदेश में रोजगार के अवसर पैदा करना महत्वपूर्ण है। इस योजना के परिणामस्वरूप पारंपरिक कारीगरों को अपनी क्षमता का एहसास होगा, और वे इस योजना द्वारा प्रदान किए गए छह दिवसीय प्रशिक्षण कार्यक्रम के माध्यम से अपने कौशल में सुधार करने में सक्षम होंगे। यह योजना स्वरोजगार के पर्याप्त अवसर भी प्रदान करती है।

Leave a Reply